Home > Letters from our Fellows > Siddharth | Jaipur

हैल्लो People for Parity Foundation, मैं सिद्धार्थ चौहान एक शांत स्वभाव, ईमानदार, मेहनती, कठोर दिल इंसान हूँl लेकिन मेरे मन में भी कभी कभी भावुकता के वो पल आ जाते है जब मैं अपने से छोटे बड़े साथियो को देखता हु जो की हमारी तरह ही इंसान होते हुए भी अलग जिंदगी जी रहे है और इन सब को देखते हुए मुझे भी ऐसा लगता है की परिवार, समाज की जिम्मेदारियों के अलावा इनके लिए भी कुछ करना है और इसी सोच और भावना के साथ मैं पिछले कुछ समय से मैजिक बस इंडिया फाउंडेशन में कार्यरत हु l

बचपन में जब मम्मी-पापा मुझे ये एहसास दिलाकर की तू लड़का है  एवं तुझे रिस्ते निभाने तथा परिवार को सम्भालना है l  इस प्रकार की बाते बोलकर मुझे मजबूत करने की कोशिश करते थे lमैं अपनी 02 बहनो में एक भाई होने के नहाते मुझसे हमेशा अपेक्षा की जाती की बाहरके सभी कार्य  स्वयं करूऔर इन सभी का दबाव में अपने निजी जीवन में भी महसूस करता हूँ l

मैंने December माह में PRATITI संस्था की 03 दिन की workshop में भाग लिया तथा वर्कशॉप में मुझे Gender based Violence , सामाजिक अवधारणाएं को बारीकी से जानने का मौका मिला तथा मुझे इन मुद्दों पर काम करने का मौका मिला इस दौरान मैंने कम्युनिटी, समाज में इन मुद्दों की जड़ो को समझने का मौका मिला l

फ़ेलोशिप के दौरान मैं खुद अपने आप को बदला हुआ महसूस करता हूँ एवं समझने लगा की मैं भी अपनी जिंदगी में इन अवधारणाओं और समस्याओं से प्रभावित हुआ हूँ lहमारे समाज में व्यापत बहुत सी समस्याएं हमे चारो तरफ से एक जाल में फंसा कर रखती है परन्तु इन समस्याओं से निपटने के लिए हमे खुद एक नयी सोच का वातावरण बनाना पड़ेगा और मुझे पूरा विश्वास है की प्रतीति की फ़ेलोशिप से यह मेरे लिए करना आसान होगा l

वर्कशॉप में जेंडर बेस्ड सेशन से मुझे अपने समाज और निजी जीवन में इस प्रकार की समस्याओं को देखने और उसका सामना करने की हिम्मत मिली  एवं इससे संबंधित सवालो के जवाब ढूंढने में मदद मिली lFellowship के दौरान सीखे अनुभव से अब मैं स्वयं तथा अन्य की सोच और जिंदगी में बदलाव लाने की कोशिश कर रहा हूँ lतथा ये प्रयास निरंतर कायम रखूंगा और युवाओं के साथ मिलकर एक नए समाज की नीवं तैयार करेंगे l

 

Thank You PRATITI Team

Siddharth Chauhan

Magic Bus India Foundation